सरोजिनी नगर मार्किट

एक नए तरह का नारीवाद है सरोजिनी नगर मार्किट दिल्ली

Spread the love

एक दौर था यही करीबन डेढ़ दशक भर पहले, जब किसी वीकेंड के मौके पर गुडगाँव के लोग सरोजिनी नगर मार्किट की बजाय गुडगाँव के सदर बाजार शौपिंग के लिए जाते थे . जो लोग नहीं जानते उन्हें बता दू सदर बाजार गुडगाँव का सबसे पुराना बाजार है 60 से भी ज्यादा साल पुराना . शहर के मुख्य बस स्टैंड से कुछ कदम दूर डाकघर से शुरू होकर 5 km तक फैला एक बाजार जो की इस गुडगाँव शहर का सबसे लोकप्रिय बाजार था. वजह थी यंहा मिलने वाली सस्ती चीजे दुनिया भर के नकली ब्रांड स्लोगन वाले कपडे जूते .

मैंने अपनी जिन्दगी का पहला स्नीकर यंही खरीदा था हरे रंग का आज भी याद है अच्छे से वो नकली नाइकी का लोगो.

खैर समय बदला गुडगाँव साइबर सिटी बन गया माल खुल गये ब्रांडेड शोरूम खुल गये, शहर में रोजगार के अवसर आने से अचानक आबादी बढ़ गई और सदर बाजार जैसे ना जाने कितने बाजार खुल गये जहाँ फर्स्ट कापी ( ब्रांड की नक़ल ) सामान मिलने लगा. भीड़ भाड़ से भरे रहने वाले बाजार से मिडिल क्लास के लोगो ने कन्नी काट ली नये बाजार उनको लुभा रहे थे और आज के दिन इस बाजार में वो लोग जाते है जिनको बाहर जाने का टाइम नहीं मिलता. वीकेंड शौपिंग के लिए आज लोग दिल्ली के सरोजिनी नगर मार्किट जाने लगे है.

गुडगाँव का सदर बाजार
सुनसान पड़ा बाजार

सरोजिनी नगर मार्किट पहले भी था पर उस दौर में सदर बाजार से लोगो को वो सब मिल जाता था जो उन्हें चहिये, यानी के नकली ब्रांड का लोगो जिसे गाँव के दौरे में या ब्याह शादी में पहन कर वो दिखा सके की हम शहर के है अच्छा पहनते है. मै अभी कुछ दिन पहले गुडगाँव गया था सोचा के सदर बाजार में कुछ तस्वीरबाजी कर लू. तस्वीरे लेते-लेते महसूस हुआ डेढ़ दशक भर पहले वाला बाजार अब बुड्ढा हो गया है वहां वो रौनक नहीं है.

आसपास चाय के ठेले पर नजर दौड़ाई तो कुछ ऑटोरिक्शा वाले दिखे, उनसे पूछा तो कान चाबी से खुजाते हुए बोले के भैया खरीददारी करनी है दिल्ली सरोजिनी नगर मार्किट जाओ यंहा कुछ नहीं है. अब ये नाम सुनके मैंने वही से गूगल में मार्किट का नाम डाला और कुछ देर भीड़ भरे रास्तो से होकर पहुँच गया .

अमीरी गरीबी की दीवार तोड़ता सरोजिनी नगर मार्किट दिल्ली

सरोजिनी नगर मार्किट
यंहा हर कोई बारगेन करता नजर आता है

मई के मौसम में तपती दोपहरी में जैसे ही बाजार में कदम रखा आँख फटी की फटी रह गई इस बाजार में जितनी भीड़ है वो सदर बाजार के मुकाबले कई गुना है . और इनमे से 90 प्रतिशत महिलाए है, कुछ कदम अंदर चला एक दो गलियारों में घूमा सरोजिनी नगर मार्किट की ज्योग्राफी और इकोनोमी समझ आई . एक अलग तरह से नारीवाद को बढ़ाता एक बाजार जहाँ औरते स्वच्छन्दता से शौपिंग कर सकती है . मतलब ये की ऐसी कोई भी चीज नहीं जो यहाँ न मिले कोई भी डिजाईन, साइज, ब्रांड की नक़ल .

CHEAP BAGS IN DELHI
हवा में झूलते ज़ारा की फर्स्ट कॉपी

CHEAP SHOES IN DELHI

ये तुम्हारे बड़े बड़े ब्रांड ज़ारा, शॉपर स्टाप, गुच्ची, लुच्ची जो भी है ये यंहा नकली लोगो के साथ सेल में लटके मिल जाएंगे 100-500 रुपए के बीच , हाँ यंहा थोडा हुनर हो रेट तुडवाने का तो कीमत और भी कम करा सकते है .

यहाँ के ज्यादातर दूकान वाले उत्तरप्रदेश के होते है जिनके बोलने का लहजा आपका मूड कभी भी बदल देता है गुस्से में है तो भी शौपिंग करके ही जाओगे एसा कुछ अंदाज है दूकान वालो का.

SALE IN DELHI
एक आध दूकान पर मर्दाना कपडे भी सेल में मिल जाते है

सरोजिनी नगर मार्किट में 50 से लेकर हजार तक बिकने वाले सामान ने अमीरी गरीबी के भेद को खत्म सा कर दिया है हर कोई यंहा बारगेन करता नजर आएगा चाहे अमीर हो या गरीब. कुल मिलाकर दिल्ली का ये बाजार न केवल एक बाजार नहीं एक नारीवाद है एक नया नारीवाद .

अंत में यही कहूँगा की यंहा आओ और शौपिंग करो यंहा खोने को कुछ नहीं है और पाने को फैशन का चरम है .

कैसे पहुंचे सरोजनी नगर मार्किट

सरोजिनी नगर मार्किट

सरोजिनी नगर मार्किट जाने का सबसे बढ़िया तरिका है मेट्रो , दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन मेट्रो पर किसी भी स्टेशन से मेट्रो लेकर I.N.A स्टेशन पर उतर कर गेट नंबर 1 या 3 से ऑटो लेकर आप यंहा तक पहुँच सकते है . इसके अलावा अगर बजट ज्यादा है तो ओला उया उबेर आजकल एक लोकप्रिय विकल्प है .

मेट्रो का रास्ता इस लिंक से देखे – मेट्रो रूट

सरोजिनी नगर मार्किट की एक ऑनलाइन वेबसाइट भी है जो की ये है – ऑनलाइन S.N

मेरे पिछले लेख – रामगढ माता मंदिर

Post Author: rao ankit

few months ago in 2017 I decided I'd rather make no money and do what I love rather than make alot of money and hate my job. now i think choosing traveling is Best decision of my life

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.