विजय धोरा vijay dhora ramsar

New year party at bikaner | photo story

Spread the love

नए साल को बीते दो महीने हो चुके है , फिर भी मैंने सोचा हमारे महान भारत देश में नए साल को लेकर bikaner में होने वाले होने वाले New year party के किस्से से आपको रूबरू करा दू | नयासाल  आजकल उन त्योहारों में से एक है जिसे हर्षो उल्लास के साथ भारत में भी मनाया जाता है मेरा भी मन हुआ क्यों न रेगिस्तान के बीचो बीच इस बार New year party के आयोजन का लुत्फ उठाया जाए , खैर पहले से कोई योजना नहीं बनी थी और इस बात की कोई चिंता भी नहीं थी क्युकी ननिहाल बीकानेर के पास है कुछ जुगाड़ नहीं लगा इन महंगे आयोजन में घुसने का तो ननिहाल में ममेरे भाई बहनों के साथ बैठ के गप्पे मारके नया साल मना लेंगे जो की नब्बे के दशक से करते आ रहे थे |

फिर भी कुछ मित्र मण्डली के सहयोग से जुगाड़ बैठ गया था एक आयोजन में शिरकत करने का आगे की सफ़र तस्वीरों में कीजिये और New year party at bikaner लेख के शुरू में बता दू मै कन्टाप फोटोग्राफर नहीं हु जो भी जैसी भी तस्वीर है वो सब एक सस्ते एंड्राइड फ़ोन में ली है शायद आपको आधुनिक तस्वीरों के मुकाबले फीकी लगे …

New year party at bikaner शुरुवात

New year party at bikaner

New year यात्रा की शुरुवात श्री गंगानगर कोटा एक्सप्रेस के पीछे भागते हुए हुई यु तो भारतीय रेल हमेशा थकी हारी समय से देरी से चलती है पर उस दिन यानी 31 दिसंबर को जैसे रेलवे ने भी नये साल से ये आदत छोड़ने की कसम खा ली थी बिलकुल सही समय पर ट्रेन रेंगने लगी खैर हमें ही आदत थी भागती गाड़ी में लटकने की क्युकी स्कूल कालिज के दिनों में हरयाणा रोडवेज पे लटक के ही यात्रा की है |

new year celebration in bikaner

अगली सुबह ठण्ड से सिकुड़े हुए राजस्थान के बीकानेर शहर में सुबह 4 बजे एक शानदार यात्रा का अंत हुआ शानदार इसलिए क्युकी वातानाकूलित शयनयान यानि ऐ.सी बोगी में टिकेट बुक था नरम गद्दे और गरम माहोल के बिच यात्रा का पता नहीं चला कब बीत गई |

Bikner on new year

इन सब विदेशी ढांचे वाले आयोजनों से परे अगर इस शहर की बात की जाए तो आज भी वही तहजीब और शालीनता है यहाँ के लोगो में चाहे वो पनवाड़ी वाला हो या रिक्शे वाला | मै स्टेशन के द्वार पे चाय की चुस्कियो और थकी हुई आँखों के साथ इंतजार कर रहा था की कोई घर से लेने आएगा इतने में नजर वह लगे New year party at bikaner  के एक पोस्टर पर पड़ी |

new year event bikaner
Newa year event poster

फटाक से New year party के पोस्टर की तरफ लपका और उसे देख कल्पनाए करने लगा की ऐसे मनाते है यहाँ नया साल खैर मैंने जल्दी में पोस्टर पे अंकित मोबाइल नंबर की तस्वीर लेली की कही योजना न बनने पर यही चल देंगे बाद में पता चला ये वही जगह है जहा जाने का हमने जुगाड़ लगाया था |

New year party at bikaner आयोजन स्थल

sanddunes bikaner, new year party in bikaner,

बिना आराम किए सुबह दस बजे ही पार्टी की जगह पहुच गए यानी बीकानेर जयपुर हाईवे पे कोई विजय धोरा नाम की जगह वह जाके देखा कोई नामोनिशान नहीं आयोजन की तैयारियो का सिर्फ ये जनाब ऊंट पर बैठ कर अपनी मोहतरमा से बात करते दिखे इनसे  पता चला सड़क से 2 किलोमीटर अंदर धोरे पर  New year party at bikaner का आयोजन है |

thar desert bikaner, new year event bikaner

जैसे तैसे मोटरसाइकिल को रेगिस्तान के बीचो बीच चला के ठिकाने पे पहुच गए एक उजाड़ बियाबान सुनसान रेगिस्तान में नया साल मनाने अब बारी थी आयोजको से इवेंट में शामिल होने की बात करने की , पैदल ही निकल पड़े बाकी बची दूरी तय करने

vijay dhora bikaner, camping in bikaner

New year party bikaner के आयोजन स्थल में घुसते ही देखा मानव निर्मित अस्थाई मयखाने की कुर्सिया नशे में उलटी पड़ी है हालाँकि एसा सब तेज हवा के चलते कर रखा था शयद इनकी कोई पुराणी तकनीक थी क्युकी हर साल यहाँ आयोजन होता था | वह पहुच कर मौजूद कुछ लोगो से बात की तो हम 4 लोगो का खर्चा यानी प्रवेश शुल्क बताया लघभग बीस हजार रुपए , सुनके कदम पीछे हटा लिए लेकिन सोचा फिर कब आया जायेगा कम से कम शिविर और त्यारियो को देख लेते है जमा तो लुत्फ उठा लेंगे नहीं तो टाटा बाय बाय|

new year event, bikaner vijay dhora

आयोजन स्थल पर निर्मित शिविर को देख कर आभास हुआ ये सब केवल विदेशी पर्यटक और अमीरों के लिए है इन शिविर में लगे साधारण बिस्तर और तस्वीरों से लग रहा था बीस हजार क्या बीस रुपए देके न रहू ऐसी जगह . सबकी अपनी अपनी नजर है जिसको लुत्फ उठाना है वो रहे अब कुछ पक्के कमरे जो शिविर के बगल में थे उनकी जाँच पड़ताल करने चल पड़े |thar desert event bikaner

कमरा देखते ही मित्र मण्डली में खुसर फुसर शुरू के इस से बढिया किसी मयखाने में बैठ कर लुत्फ उठा लेंगे खिसक लो यहाँ से यानी के अपनी भाषा में भडास निकलने लगे और चुपके से रामराम सा बोलके वापस उसी रस्ते पर चल दिए अब आगे जो हुआ उस से लगा के दिन ही नहीं किस्मत भी खराब है |

bike in thar desert bikaner

अब बारी थी अपने आप में मजा लेने की उलटे सुलटे बैठ के रेत के समंदर में कुछ तस्वीर बाजी करने की जबकि इस रेत में मोटरसाइकिल दम तोड़े जा रही थी

bike stucked in thar desert, thar adventure

 जिस रेत के रेगिस्तान मे मछली समझ के मोटरसाइकिल को उतरा उसने बीचो नीच दम तोड़ दिया अब बारी धक्का लगाने की, शायद New year party के  आयोजको की बद्द्दुआए लग गई थी क्युकी मित्र मण्डली ने शिविर का मजाक उड़ाया था| कड़ी मेहनत के बाद वापस उसी जगह पहुच गये जहा ऊंट वाले जनाब मिले थे अब ये नया साल भी हर बार की तरह किसी मयखाने में बीतने वाला था कुछ अनजान लोगो के बीच टेलीविजन पर बजते संगीत के साथ |

bar and disco in bikaner

जिसने पीई नहीं व्हिस्की , किस्मत फूट गयी उसकी ..
ये मै नहीं जनाब अमिताब बच्चन साहब ने शराबी फिलम में कहा था और यहाँ के मालिक भी बच्चन साहब के दीवाने लगते है तभी प्रवेश द्वार पे 7 फूट का पोस्टर फेव्कोल के मजबूत जोड़ से चिपका रखा था , bikaner  में new year मनाने का सफ़र यहीं आकर खत्म हुआ |

इन सब बातो से हटके बात करते है अगर आप लुत्फ उठाते समय बजट नहीं देखते तो आपके लिए ये आयोजन New year party at bikaner मजेदार रहेगा हर साल विजय धोरा रामसर में इसका आयोजन होता है जीप सफारी और कैमल सफारी की भी यंहा व्यवस्था होती है दाम समय के साथ बदल जाते है थोड़े बहुत बाकी जगह और इवेंट ठीक ठाक लगी हालाँकि जैसलमेर के मुकाबले ये सब आधा अधुरा था फिर भी आप बीकानेर में आये नए साल के मौके पर तो एक बार जांच करे शयद आपका बजट और मन मंजूरी देदे |

लेख में कोई गलती हो तो माफ़ करना अभी नया नया लिखने लगा हु ..खम्बाघनी फिर मिलते है किसी नये लेख में |

Post Author: rao ankit

few months ago in 2017 I decided I'd rather make no money and do what I love rather than make alot of money and hate my job. now i think choosing traveling is Best decision of my life

2 thoughts on “New year party at bikaner | photo story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.